कार्यकारी परिषद

कार्यकारी परिषद

(i)प्रमुख सचिव,.प्र. शासन,लोक स्‍वा. एवं परि. कल्‍याण विभाग

अध्‍यक्ष

(ii)स्‍वास्‍थ्‍य आयुक्‍त,संचालनालय स्‍वास्‍थ्‍य सेवायें

सह अध्‍यक्ष

(iii)संचालक,स्‍वास्‍थ्‍य सेवायें,

सदस्‍य

(iv)मुख्‍य कार्यपालन अधिकारी,दीन दयाल स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा परिषद

सदस्‍य सचिव

(v)कार्यपालन अधिकारी(प्रशासन),दीन दयाल स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा परिषद

सदस्‍य

(vi)वित्‍त अधिकारी,दीन दयाल स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा परिषद

सदस्‍य

(vii) कार्यपालन अधिकारी(ऑपरेशन),दीन दयाल स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा परिषद

सदस्‍य

(viii) अध्‍यक्ष,दीन दयाल स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा परिषद द्वारा नामित अन्‍य अधिकारी

सदस्‍य

दीन दयाल स्वास्थ्य सुरक्षा परिषद (DDSSP) “निरामयम” आयुष्मान भारत मिशन योजना को प्रदेश में लागू करने हेतु मध्यप्रदेश सोसायटी रजिस्ट्री करण अधिनियम 1973 के अंतर्गत, ‘‘दीन दयाल स्वास्थ्य सुरक्षा परिषद (Deen Dayal Swasthya Suraksha Parishad)‘‘ का पंजीयन दिनांक 07 जुलाई 2018 को किया गया है, जिसका पंजीयन क्रमांक 01/01/01/34127/18 है (समिति का पंजीयन प्रमाण पत्र)। यह परिषद स्टेट हेल्थ एजेंसी के रूप में कार्य कर रही है, जिसके अंतर्गत इस योजना का पूर्ण क्रियान्वयन करने का दायित्व है। ‘‘दीन दयाल स्वास्थ्य सुरक्षा परिषद (DDSSP) निरामयम‘‘ योजना का कार्यालय ‘‘आई.ई.सी. ब्यूरो‘‘, जय प्रकाश चिकित्सा परिसर, भोपाल में स्थापित है।
दीन दयाल स्वास्थ्य सुरक्षा परिषद हेतु संगठनात्मक सरंचना शासन द्वारा स्वीकृत की गयी है।
नेशनल हेल्थ एजेंसी के द्वारा SHA को निम्न जिम्मेदारियां सौंपी गयी है-
DDSSP के अंतर्गत एसएचए/कार्यान्वयन सहायता एजेंसी (आईएसए) के कर्मचारियों के माध्यम से निम्नलिखित गतिविधियां करेगा-
  • एबी-एनएचपीएम के तहत सेवाओं के वितरण से संबंधित सभी महत्वपूर्ण कार्यों को एसएचए द्वारा किया जाएगा। डेटा साझाकरण, परिवारों और सदस्यों का सत्यापन/वैधता, जागरूकता निर्माण निगरानी इत्यादि।
  • राज्य स्वास्थ्य संरक्षण के नीति संबंधी मुद्दों और इससे जुड़ाव की योजना।
  • निविदा प्रक्रिया के माध्यम से कार्यान्वयन सहायता एजेंसियों का चयन।
  • समुदाय में जन जागरूकता उत्पन्न करना।
  • आधार से लिंक करना और हितग्राही के बी.आई.एस- तैयार करना। मान्य एबी-एनएचपीएम लाभार्थी को ई-कार्ड प्रिंट देना।
  • मानदंडों को पूरा करने वाले नेटवर्क अस्पतालों को पैनल करना।
  • स्वास्थ्य देखभाल प्रदाताओं द्वारा प्रदान की जानेवाली सेवाओं की निगरानी
  • धोखाधड़ी और दुव्र्यव्हार प्रदाताओं के खिलाफ दण्डात्मक कार्रवाई करना एवं उनको नियंत्रित करना।
  • Pre-auth की निगरानी एवं ISA द्वारा अनुमोदित अस्पतालों से प्राप्त क्लेम के अनुमोदन की निगरानी करना।
  • पैकेज मूल्य का मूल्य संशोधन या एबी-एनएचपीएम सूची का अनुकूलन
  • राज्य की आवश्यकताओं के लिए सूचीबद्ध उपचारों के लिए एबी-एनएचपीएम उपचार प्रोटोकॉल को अपनाना, आवश्यकतानुसार एनएचए के परामर्श से परिचालन दिशा निर्देशों को अनुकूलित करना।
  • जहां आवश्यक हो शिकायत निवारण समितियां बनाना और शिकायत निवारण समारोह की देख रेख करना।
  • क्षमता विकास योजना और उपक्रम क्षमता विकास।
  • पूर्व नीतिगत परिवर्तनों के प्रस्तावों का विकास- उदाहरण के लिए सार्वजनिक प्रदाताओं के लिए प्रोत्साहन प्रणाली और कार्यान्वयन
  • स्वतंत्र एजेंसियों के माध्यम से मूल्यांकन
  • राज्य वित्त पोषित स्वास्थ्य बीमा सुरक्षा योजना के साथ एबी-एनएचपीएम का अभिसरण एबी-एनएचपीएम के साथ राज्य योजना का गठबंधन
  • जिला स्तर पर क्रियान्वयन इकाई की स्थापना एवं नियन्त्रण।
  • कार्यान्वयन की स्थिति के आधार पर नियमित समयानुसार रिपोर्ट तैयार करना
  • राष्ट्रीय मार्गदर्शन के तहत आशा श्रमिकों और सार्वजनिक प्रदाताओं के लिए प्रोत्साहन प्रणाली लागू करना
  • डाटा मैनेजमेन्ट

Last Updated on 01 Dec, 2018